शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर

चित्र शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

समस्त
मोहब्बत अब नहीं होगी ये कुछ दिन ब'अद में होगी-मुनीर नियाज़ी

मुनीर नियाज़ी

जो देखते तिरी ज़ंजीर-ए-ज़ुल्फ़ का आलम-हैदर अली आतिश

हैदर अली आतिश

तुम्हारा हिज्र मना लूँ अगर इजाज़त हो-जौन एलिया

जौन एलिया

तुम मोहब्बत को खेल कहते हो-बशीर बद्र

बशीर बद्र

यहाँ किसी को भी कुछ हस्ब-ए-आरज़ू न मिला-ज़फ़र इक़बाल

ज़फ़र इक़बाल

हुस्न के समझने को उम्र चाहिए जानाँ-परवीन शाकिर

परवीन शाकिर

बहुत अजीब है ये क़ुर्बतों की दूरी भी-बशीर बद्र

बशीर बद्र

ये अदा-ए-बे-नियाज़ी तुझे बेवफ़ा मुबारक-शकील बदायुनी

शकील बदायुनी

इक रात दिल-जलों को ये ऐश-विसाल दे-जलाल लखनवी

जलाल लखनवी

कुछ कह के उस ने फिर मुझे दीवाना कर दिया-वहीद इलाहाबादी

वहीद इलाहाबादी

कोई ज़मीन है तो कोई आसमान है-करामत अली करामत

करामत अली करामत

मुस्कुराते हुए मिलता हूँ किसी से जो 'ज़फ़र'-ज़फ़र इक़बाल

ज़फ़र इक़बाल

घरों पे नाम थे नामों के साथ ओहदे थे-बशीर बद्र

बशीर बद्र

मिरी उम्मीद का सूरज कि तेरी आस का चाँद-ज़फ़र मुरादाबादी

ज़फ़र मुरादाबादी

चित्र शायरी