लखनऊ के शायर और अदीब

कुल: 406

मेडिकल डॉक्टर / लंदन में प्रवास

पाकिस्तान की लोकप्रिय नारीवादी लेखिका, आजीवन पुरूष प्रधान समाज को घेरने वाली कहानियां लिखती रहीं.

स्वतंत्रता सेनानी और संविधान सभा के सदस्य। ' इंक़िलाब ज़िन्दाबाद ' का नारा दिया। कृष्ण भक्त , अपनी ग़ज़ल ' चुपके चुपके, रात दिन आँसू बहाना याद है ' के लिए प्रसिद्ध

लोकप्रिय कथाकार और पत्रकार, प्रसिद्ध उपन्यास ‘लहू के फूल’ के लेखक, अपने ग़ज़ल विरोधी विचारों के लिए प्रसिद्ध.

मुशायरों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा माने जाने वाले शायर

मिर्ज़ा ग़ालिब के समकालीन, 19वीं सदी की उर्दू ग़ज़ल का रौशन सितारा।

हास्य-व्यंग के लोकप्रिय शायर

प्रमुख उत्तर कलासिकी शायर / अपने शेर ‘बड़े ग़ौर से सुन रहा था ज़माना...’ के लिए मशहूर