noImage

नवाब मोहम्मद यार ख़ाँ अमीर

- 1775 | रामपुर, भारत

नवाब मोहम्मद यार ख़ाँ अमीर

ग़ज़ल 1

 

अशआर 1

शिकस्त फ़त्ह मियाँ इत्तिफ़ाक़ है लेकिन

मुक़ाबला तो दिल-ए-ना-तवाँ ने ख़ूब किया

  • शेयर कीजिए
 

संबंधित शायर

"रामपुर" के और शायर

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

Jashn-e-Rekhta | 2-3-4 December 2022 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate, New Delhi

GET YOUR FREE PASS
बोलिए