Faheem Jogapuri's Photo'

फ़हीम जोगापुरी

मऊनाथ भंजन, भारत

फ़हीम जोगापुरी

ग़ज़ल 39

अशआर 13

वाक़िफ़ कहाँ ज़माना हमारी उड़ान से

वो और थे जो हार गए आसमान से

  • शेयर कीजिए

शाम ख़ामोश है पेड़ों पे उजाला कम है

लौट आए हैं सभी एक परिंदा कम है

  • शेयर कीजिए

बात दिल की सुनूँ मैं दिल सुने मेरी

ये सर्द जंग है अपने ही इक मुशीर के साथ

  • शेयर कीजिए

कितने तूफ़ानों से हम उलझे तुझे मालूम क्या

पेड़ के दुख-दर्द का फूलों से अंदाज़ा कर

  • शेयर कीजिए

तेरी यादें हो गईं जैसे मुक़द्दस आयतें

चैन आता ही नहीं दिल को तिलावत के बग़ैर

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 7

 

चित्र शायरी 1

 

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

Jashn-e-Rekhta | 2-3-4 December 2022 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate, New Delhi

GET YOUR FREE PASS
बोलिए